जू में काम पूरा नहीं और पैसे का हो गया भुगतान

चिड़ियाघर में 42 लाख का विकास कार्य पूरा हुआ ही नहीं लेकिन अफसरों की मेहरबानी से भुगतान कर दिया गया। चिड़ियाघर प्रशासन की मेहरबानी से कंपनी व ठेकेदार की जेब में पूरा पैसा चला गया। हकीकत में न तो पुल बना है, न ही तालाब खोदा गया और न ही फव्वारा चल रहा है। इसी तरह कुल 17 कामों के लिए जारी रकम का भुगतान बिना पड़ताल के कर दिया गया। ये हाल तब है जब चिड़ियाघर के बजट में पहले ही कटौती कर दी गई है। जानवरों को मिलने वाले भोजन में भी कटौती हो चुकी है। .

कानपुर चिड़ियाघर में तितली पार्क के निर्माण के लिए 2 करोड़ 57 लाख 70 हजार रुपए वर्ष 2017-18 में आए थे। शुरुआत में निर्माण कार्य भी तेजी से हुआ, लेकिन अचानक काम की स्पीड पर ब्रेक लग गया। पिछले साल से पार्क में कोई भी निर्माण कार्य नहीं किया गया लेकिन पैसा लैप्स न हो जाए, इसलिए चिड़ियाघर प्रशासन ने पूरा भुगतान वित्तीय वर्ष समाप्त होने की जल्दबाजी में कर दिया। .

More News
गर्मी के बीच गुजरा पहला रोजाअतिक्रमण हटाने पहुंची टीम का हुआ घेराव50 फीसद वीवीपैट पर्चियों के मिलान की मांग खारिजछात्र को केडीए उपाध्यक्ष ने किया सम्मानित3 करोड़ की लागत से बनने वाले घाट पर फिर रहा पानी

Leave a Reply

Powered by WordPress | Theme Designed by: find out | Thanks to seeds, website and click